एसटीएफ : आई0डी0 हैक करने वाले अन्तर्राज्यीय ठग गिरफ्तार

वेब वार्ता (न्यूज़ एजेंसी)/ अजय कुमार वर्मा
गोरखपुर 17 अक्टूबर। दिनांकः 16/17-10-2020 को एस0टी0एफ0, उ0प्र0 एवं स्टेट साइबर सेल, इन्दौर, मध्य प्रदेश को जनपद गोरखपुर के विभिन्न थाना क्षेत्रो से अन्तर्राज्यीय स्तर के ई-मेल आई0डी0 हैक कर विभिन्न खातो में पैसा मंगाकर ठगी करने वाले गिरोह के 04 अभियुक्तों को गिरफ्तार करने में उल्लेखनीय सफलता प्राप्त हुई।
गिरफ्तार अभियुक्तों का विवरणः-
1- सैयदा बेगम पत्नी अब्दुल सत्तार, नि0-21-क, कल्याणपुर कालीके पास, थाना तिवारीपुर, गोरखपुर
2- परवेज अहमद पुत्र हसन अहमद, नि0 म0न0 134, मुहल्ला निजामपुर, थाना तिवारीपुर जनपद-गोरखपुर
3- गयासुद्दीन खान उर्फ सानू पुत्र कमालुद्दीन खान, नि0-78 बी, गोसीपुरा प्राइमरी स्कूल के पास, थाना-तिवारीपुर, जनपद गोरखपुर।
4- आशीष जायसवाल पुत्र राधेश्याम जायसवाल, नि0-ग्राम-व थाना -बाॅसगाॅव, जनपद गोरखपुर। वर्तमान पता-म0न0 350-सी, राप्तीनगर ,थाना शाहपुर, जनपद गोरखपुर।
गिरफ्तारी का स्थान, दिनांक व समयः-
1- सैयदा बेगम-स्टेट बैक के सामने, अमरूद्व मण्डी चैराहा, थाना राजधाट, जनपद गोरखपुर। दिनांकः 16-10-2020, समय 17.00 बजे
2- परवेज अहमद- रूस्तमपुर ढाला, थाना रामगढताल, जनपद गोरखपुर। दिनांकः 16-10-2020, समय-21.15 बजे
3- गयासुद्दीन खान उर्फ सानू-घोसीपुर प्राइमरी स्कूल के पास, थाना राजधाट, जनपद गोरखपुर। दिनांकः 16-10-2020, समय 11.30 बजे
4- आशीष जायसवाल-घोसीपुर प्राइमरी स्कूल के पास, थाना राजधाट, जनपद गोरखपुर। दिनांकः 16-10-2020, समय 11.30 बजे
बरामदगी:
1- 05 अद्द आधार कार्ड, जिसमें सैयदा बेगम के दो आधार कार्ड अलग-अलग पते से है।
2- 01 अदद पैन कार्ड
3- 01 अदद ए0टी0एम0
4- 06 अद्द मोबाइल
5- रू0-7000/- नगद
               दिनांक-11-08-2020 को थाना साइबर और हाइटैक अपराध, साइबल सेल, मध्य प्रदेश में मु0अ0सं0 145/2020 धारा 66सी, 66डी आई0टी0(संशोधन) एक्ट 2008 व 419/420 भादवि0 पंजीकृत हुआ था। विवेचना के उपरान्त उपरोक्त अभियुक्तगणों के नाम प्रकाश में आये थे, जिनकी गिरफ्तारी के सम्बन्ध में  एस0टी0एफ0 फील्ड इकाई, गोरखपुर को अभिसूचना संकलन एवं कार्यवाही हेतु निर्देशित किया गया था, जिसके अनुपालन में पुलिस उपाधीक्षक, धर्मेश कुमार शाही के पर्यवेक्षण मंे सत्य प्रकाश सिंह, निरीक्षक, उ0नि0 आलोक कुमार राय एस0टी0एफ0 फील्ड इकाई, गोरखपुर द्वारा अभिसूचना संकलन की कार्यवाही प्रारम्भ की गयी तथा अभिसूचना तंत्र को सक्रिय किया गया।
                 दिनांक 16-10-2020 को निरीक्षक साइबर सेल, इन्दौर, म0प्र्र0 अम्बरीश मिश्रा के नेतृत्व में एक टीम ने एस0टी0एफ0 फील्ड इकाई, गोरखपुर से विकसित सूचनाओं का आदान प्रदान किया गया। पूर्व में मामूरा मुखबिर ने बताया कि सैयदा बेगम, जिसके नाम का खाता है, जो स्टेट बैक के सामने अमरूद्व मण्डी चैराहा, थाना राजधाट, जनपद गोरखपुर के पास खड़ी है। महिला थाना जनपद गोरखपुर से महिला पुलिस बल एवं मुखबिर को साथ लेकर अमरूद्व मण्डी स्थित एस0बी0आई0 बैक के पास पहुॅचे। स्टेट बैंक के बाहर खड़ी महिला को देखकर मुखबीर ने बताया कि यही सैयदा बेगम है और मुखबिर चला गया। महिला पुलिस बल द्वारा सैयदा बेगम की गिरफ्तारी की गई।
         पूछताछ में सैयदा बेगम ने बताया कि उसके साथी परवेज अहमद, गयासुद्दीन खान उर्फ सानू, आशीष जायसवाल के गिरोह के सदस्य है तथा इन लोगों का मुखिया गयासुद्दीन खान उर्फ सानू एवं आशीष जायसवाल है। तत्पश्चात सैयदा बेगम की निशानदेही पर परवेज अहमद को रूस्तमपुर ढाले के पास से की गिरफ्तारी की गयी एवं परवेज अहमद की निशानदेही पर गयासुद्दीन खान उर्फ सानू व आशीष जायसवाल को घोसीपुर प्राइमरी स्कूल के पास से गिरफ्तार किया गया।
              गिरफ्तार अभियुक्तणों से पुछताछ में बताया कि इन लोगों का एक गिरोह है। गिरोह की सदस्य सैयदा बेगम के आधार कार्ड में बार-बार पता बदलकर विभिन्न बैकों में खाता खुलवाते हैं तथा खाता खुलवाने के बाद खाते का ए0टी0एम0, पासबुक, चेकबुक परवेज अहमद, गयासुद्दीन खान उर्फ सानू, आशीष जायसवाल अपने पास रख लेते हैं। जब खाते में फ्राड का पैसा आता है तो गयासुददीन द्वारा एटीएम से पैसा निकाला जाता है तथा आशीष द्वारा अलग-अलग खातों में आन लाइन पैसा ट्रान्सफर किया जाता है। अगर किसी बैंक खाते में पैसों का ट्रान्जेकशन करने में कोई समस्या आती है तो सैयदा बेगम व परवेज पति-पत्नी बनकर बंैक में जाकर पता करते हैं और चेकबुक या पासबुक से पैसा निकाल लेते हैं। निकाले गये पैसों का पहले से तय प्रतिशत के हिसाब से बंटवारा कर लेते हैं। थाना साइबर और हाइटैक अपराध साइबल सेल, मध्यप्रदेश में मु0अ0सं0 145/2020 धारा 66 सी, 66 डी आई0टी0(संशोधन) ऐक्ट 2008 व 419/420 भादवि0 पंजीकृत के सम्बन्ध में पुछने पर बताया कि आशीष के साथी अकरम और प्रतीक, जो दिल्ली में रहते हैं और इन्दौर आते जाते रहते हैं, इन्ही लोगों ने ई-मेल आई0डी0 की फिशिंग करके फर्जी मेलकर पैसा मंगावाया गया था। अकरम के बताने पर कि पैसा आ गया है, निकाल लो, इस पर गयासुद्दीन द्वारा दो बार एटीएम0 से 80 हजार रूपये व आशीष द्वारा दो लाख रूपये का आईएमपीएस0 मनोज नाम के व्यक्ति के खाते में किया गया।
        अभियुक्ता सैयदा बेगम नि0 उपरोक्त को महिला थाना, जनपद गोरखपुर एवं शेष तीनों अभियुक्तगण को थाना तिवारीपुर, जनपद गोरखपुर में दाखिल कर ट्रान्जिट रिमाण्ड एंव अग्रेतर कार्यवाही निरीक्षक साइबर सेल इन्दौर, म०प्र  द्वारा की जा रही है।


 


Popular posts
प्रशासक ग्रेटर शारदा सहायक समादेश क्षेत्र विकास प्राधिकारी/परियोजना के मौजूदा नम्बर बदले गए 
राज्यपाल ने प्रगति इंडस्ट्रीज, इंडस्ट्रीयल स्टेट स्थित कांच की फैक्ट्री का निरीक्षण किया
Image
राज्यमंत्री बलदेव सिंह ने मुख्य अभियंता शारदा सहायक व मुख्य अभियंता सज्जा के कार्यालय का आकस्मिक निरीक्षण किया
Image
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने ज्योति पर्व ‘‘दीपावली’’ पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई दी 
Image
डीजीपी ने महिलाओं/बच्चियों के साथ घटित होने वाले अपराधों की रोकथाम के लिए अभियान ‘‘मिशन शक्ति‘‘ हेतु निर्देश जारी किये 
Image