उच्च न्यायलय के पूर्व जज और उनकी पत्नी बेटे द्वारा घर से निकाले जाने के खिलाफ हाईकोर्ट पहुंचे

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 17 अक्टूबर। इलाहाबाद उच्च न्यायलय के पूर्व जज और उनकी पत्नी अपने बेटे द्वारा घर से निकालने के खिलाफ हाईकोर्ट पहुंचे, जहाँ उन्हें जिला मजिस्ट्रेट के पास जाने का निर्देश दिया गया। 
      इलाहाबाद उच्च न्यायलय ने जिला मजिस्ट्रेट को निर्देश दिया कि दो महीने में पूर्व जज और उनके बेटे के बीच संपत्ति के स्वामित्व विवाद को हल करे। उच्च न्यायलय में रिट याचिका में आरोप लगाया गया कि वह विवादित घर के पंजीकृत मालिक थे, उनके बेटे चंदन कुमार ने उन्हें अवैध रूप से बेदखल कर दिया है। न्यायमूर्ति कुमार को अप्रैल 2001 में इलाहाबाद उच्च न्यायलय के न्यायाधीश के रूप में पदोन्नत किया गया था और उन्होंने 13 सितंबर, 2008 तक अपनी सेवा दी थी।


Popular posts
प्रशासक ग्रेटर शारदा सहायक समादेश क्षेत्र विकास प्राधिकारी/परियोजना के मौजूदा नम्बर बदले गए 
राज्यपाल ने प्रगति इंडस्ट्रीज, इंडस्ट्रीयल स्टेट स्थित कांच की फैक्ट्री का निरीक्षण किया
Image
राज्यमंत्री बलदेव सिंह ने मुख्य अभियंता शारदा सहायक व मुख्य अभियंता सज्जा के कार्यालय का आकस्मिक निरीक्षण किया
Image
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने ज्योति पर्व ‘‘दीपावली’’ पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई दी 
Image
डीजीपी ने महिलाओं/बच्चियों के साथ घटित होने वाले अपराधों की रोकथाम के लिए अभियान ‘‘मिशन शक्ति‘‘ हेतु निर्देश जारी किये 
Image