अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का कृषि कुंभ 2018 का सफलतापूर्वक आयोजन संपन्न

वेबवार्ता(न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा
लखनऊ १२ अक्टूबर। प्रदेश सरकार द्वारा किसानों की आय वर्ष 2022 तक दो गुनी करने के उद्देश्य से उत्तर प्रदेश के इतिहास में पहली बार अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का कृषि कुंभ 2018 का सफलतापूर्वक आयोजन संपन्न हुआ। जिसमें अन्तर्राष्ट्रीय कृषि सम्मेलन कृषि एवं संबंधित विभागों की तकनीकी प्रदर्शनीए सजीव प्रदर्शन तथा फसल अवशेष एवं 14 विभिन्न तकनीकी आयामों पर आधारित सेमिनार आयोजित किये गये। इस काम में देश के विभिन्न राज्यों से लगभग एक लाख कृषिए वैज्ञानिकए विशेषज्ञों भारत सरकार तथा प्रदेश सरकार के अधिकारियोंए विदेशी राजनयिकोए विधायकों सांसदों सहित भारत सरकार एवं उत्तर प्रदेश सरकार के मंत्रीगणों द्वारा सहभागिता की गयी। इस अवसर पर जापान और इजराइल ने सहयोगी देशों के रूप में प्रतिभाग किया। इजरायल की राजदूत द्वारा प्रदेश में सेंटर आफ एक्सीलेंस की स्थापना तथा जापान के उप सहायक मंत्री यकृषि वन एवं मत्स्य मंत्रालयद्ध द्वारा कृषि क्षेत्र में उद्योगों की स्थापना में सहयोग के सम्बन्ध में हस्ताक्षरित किया गया।
      कृषि विभाग से मिली जानकारी के अनुसार कृषकों की आय दोगुना करने के क्रम में विभाग द्वारा किसानों को कृषि की नवीनतम तकनीकी से प्रशिक्षित करने हेतु रबी 2017.18 में एक अनूठी किसान पाठशाला यद मिलियन फार्मर्स स्कूलद्ध का आयोजन पूरे प्रदेश में किया गया। इसमें 10ण्02 लाख से अधिक किसानों को दो सत्रों में 05 दिवसीय प्रशिक्षण दिया गयाए जिसमें कृषिए उद्यानए गन्ना रेशमए विपणनए पशुपालनए मत्स्य पालन एवं कृषि से संबंधित अन्य गतिविधियों की जानकारी उपलब्ध करायी गयी।प्रथम चरण की सफलता के दृष्टिगत वर्ष 2018.19 में किसान पाठशालाओं के 03 दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम को पूरे प्रदेश में दो सत्रों में आयोजित कराया गयाए जिसमें खरीफ 2018 में 10ण्26 लाख तथा रबी 2018.19 में 10ण्65 लाख कृषकों द्वारा प्रतिभाग किया गया।
      इसी प्रकार वर्ष 2019.20 में किसान पाठशालाओ का दो सत्रों में 04 दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें खरीफ 2019 में 11ण्38 लाख तथा रबी 2019.20 में 11ण्34 लाख कृषकों द्वारा प्रतिभाग किया गया। इस प्रकार अद्यतन कुल 76 हजार गांवों में 5 सत्रों में कुल 53ण्65 लाख कृषकों द्वारा प्रतिभाग किया गया। कृषकों की आय दोगुना करने हेतु कृषि एवं मनरेगा कनर्वेजन्स के अंतर्गत प्रदेश के 04 सम्भागों में राज्य स्तरीय कार्यशालाओं का आयोजन किया गया। किसान पाठशाला के आयोजन में स्थानीय सांसदगणए 78 विधायकगण तथा 30 ब्लाक प्रमुख एवं 752 ग्राम प्रधानए इस प्रकर लगभग 1475 जन.प्रतिनिधियों द्वारा प्रतिभाग किया गया। उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का रोडमैप तैयार किया गया हैए जिसके लिये 8 सूत्रीय रणनीति तैयार की गयी। सीसीआई एवं मण्डी परिषद के संयुक्त तत्वाधान में थ्ंतउमते.।हतव प्दकनेजतपंसपेज उममज ष्थ्ंतउमतेश् थ्पतेज का आयोजन लखनऊ में किया गयाए जिसमें कृषि उद्यमीए अधिकारीगण तथा कृषकों द्वारा प्रतिभाग किया गया। इस बैठक में की गई संस्तुतियों एवं निर्णयों के आधार पर मण्डी.रिफॉर्म्स तथा कृषक आय वृद्धि हेतु दिये गये सुझावों पर कार्यवाही की जा रही है। - अमित कुमार शुक्ला


Popular posts
राज्यमंत्री बलदेव सिंह ने मुख्य अभियंता शारदा सहायक व मुख्य अभियंता सज्जा के कार्यालय का आकस्मिक निरीक्षण किया
Image
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने ज्योति पर्व ‘‘दीपावली’’ पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई दी 
Image
प्रशासक ग्रेटर शारदा सहायक समादेश क्षेत्र विकास प्राधिकारी/परियोजना के मौजूदा नम्बर बदले गए 
राज्यपाल ने प्रगति इंडस्ट्रीज, इंडस्ट्रीयल स्टेट स्थित कांच की फैक्ट्री का निरीक्षण किया
Image
डीजीपी ने महिलाओं/बच्चियों के साथ घटित होने वाले अपराधों की रोकथाम के लिए अभियान ‘‘मिशन शक्ति‘‘ हेतु निर्देश जारी किये 
Image