डीआरडीओ ने रोसोबोरोनेक्सपोर्ट रूस के साथ प्रौद्योगिकी विकास अनुबंध पर हस्ताक्षर किए

नई दिल्ली 9 फरवरी। उच्च ऊर्जा सामाग्री अनुसंधान प्रयोगशाला (HEMRL) डीआरडीओ की प्रयोगशाला है जो मिसाइलों, रॉकेटों और बंदूकों के लिए आवश्यक उच्च ऊर्जा सामाग्री की रेंज/स्पेक्ट्रम के विकास में काम कर रही है। 
      डिफेंसएकस्पो 2020 के दौरान, उच्च ऊर्जा सामाग्री अनुसंधान प्रयोगशाला (HEMRL) पूणे ने एडवांस पायरोटेक्निक इग्निशन सिस्टम के विकास के लिए रोसोबोरोनेक्सपोर्ट, रूस के साथ प्रौद्योगिकी विकास अनुबंध पर हस्ताक्षर किए। निर्देशक उच्च ऊर्जा सामाग्री अनुसंधान प्रयोगशाला (HEMRL) केपीएस मूर्ति ने बताया कि इससे ऊर्जावान सामाग्री और पायरोटेक्निक तकनीक के क्षेत्र में उन्नति हो सकेगी जिससे उन्नत प्रज्जवलन प्रणाली का विकास होगा। यह उच्च प्रदर्शन प्रणोदन प्रणाली की भविष्य की आवश्यकताओं को पूरा करेगा। उन्होंने कहा कि प्रणोदन प्रणाली रॉकेट और मिसाइलों के पिछे की शक्ति है। यह प्रौद्योगिकी विकास आगामी उत्पादों के लिए अत्याधिक ठोस रॉकेट मोटर्स के डिजाइन और विकास की सुविधा प्रधान करेगा। ये उत्पाद सुगठित और ऊर्जा सक्षम प्रणोदन प्रणाली पर आधारित होंगे।


Popular posts
प्रियंका ने वीडियो कांफ्रेंसिंग द्वारा ग्राम विकास अधिकारी और दारोगा भर्ती के अभ्यर्थियों से बातचीत की
Image
राज्यपाल ने प्रगति इंडस्ट्रीज, इंडस्ट्रीयल स्टेट स्थित कांच की फैक्ट्री का निरीक्षण किया
Image
गन्ना किसान फोन पर ही अपनी शिकायत दर्ज कराकर उसका समाधान पा सकेंगे - आयुक्त, संजय आर0 भूसरेड्डी
शारदीय नवरात्र पर नारी सुरक्षा एवं स्वावलम्बन हेतु विविध कार्यक्रमों का आयोजन प्रस्तावित - डाॅ0 दिनेश शर्मा
तालेत्तुताई सोलर प्रोजेक्ट फाइव प्रा0 लि0 को ग्राम खेड़ा एवं शहजादनगर तहसील बिल्सी, जनपद बदायूँ में 12.50 एकड़ से अधिक भूमि क्रय