KGMU: 113 प्रोफेसरों को पदोन्नति, एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. केपी सिंह बर्खास्त

केजीएमयू कार्यपरिषद की शुक्रवार को हुई बैठक अहम रही। बैठक में 113 संकाय सदस्यों को पदोन्नति दी गई। निलंबित चल रहे माइक्रोबायोलॉजी विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. केपी सिंह को बर्खास्त कर दिया गया। केजीएमयू में वर्ष 2014 में राज्य की सीपीएमटी प्रवेश परीक्षा के दौरान चौक एवं नोएडा थाने में रिपोर्ट दर्ज होने पर 17 अक्तूबर 2014 को डॉ. केपी सिंह को निलंबित कर दिया गया था। इन्हें शुक्रवार को बर्खास्त कर दिया गया। पीडियाट्रिक सर्जरी के प्रो. आशीष वाखलू को जांच कार्य में सहयोग नहीं करने के लिए अनुशासनिक समिति की संस्तुति पर निलंबित कर दिया गया। उधर, डॉ. आशीष वाखलू ने कहा कि विश्वविद्यालय प्रशासन ने निलंबन की कार्रवाई करके कोर्ट के आदेश की अवहेलना की है। मुझे न्यायालय पर भरोसा है। इसी तरह सीएफआर की डॉ. नीतू सिंह का एक प्रोफेसर से विवाद हुआ था। इस मामले में डॉ. नीतू सिंह की अनुशासनहीनता मानी गई। उनके खिलाफ जांच बैठा दी गई है। पल्मोनरी एंड क्रिटिकल केयर के विभागाध्यक्ष डॉ. वेद प्रकाश पर आय से अधिक संपत्ति का मामला राज्यपाल को भेजा गया। एक आरोप में तीन इंक्रीमेट रोकने के मामले में कम्यूनिटी मेडिसिन विभाग के प्रो. ओपी सिंह के प्रत्यावेदन को परीक्षण के लिए रख लिया गया है।


Popular posts
प्रशासक ग्रेटर शारदा सहायक समादेश क्षेत्र विकास प्राधिकारी/परियोजना के मौजूदा नम्बर बदले गए 
राज्यपाल ने प्रगति इंडस्ट्रीज, इंडस्ट्रीयल स्टेट स्थित कांच की फैक्ट्री का निरीक्षण किया
Image
राज्यमंत्री बलदेव सिंह ने मुख्य अभियंता शारदा सहायक व मुख्य अभियंता सज्जा के कार्यालय का आकस्मिक निरीक्षण किया
Image
प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने ज्योति पर्व ‘‘दीपावली’’ पर प्रदेशवासियों को हार्दिक बधाई दी 
Image
डीजीपी ने महिलाओं/बच्चियों के साथ घटित होने वाले अपराधों की रोकथाम के लिए अभियान ‘‘मिशन शक्ति‘‘ हेतु निर्देश जारी किये 
Image