मास्टर ट्रेनर,जोनल एवं सेक्टर मजिस्ट्रटों का द्वितीय प्रशिक्षण सम्पन्न
 

गोण्डा:-लोकसभा चुनाव को लेकर 250 मास्टर ट्रेनरों, 34 जोनल एवं 216 सेक्टर मजिस्ट्रेटों का द्वितीय प्रशिक्षण नगर के शहीदे आजम सरदार भगत सिंह इन्टर कालेज में सम्पन्न हुआ जिसमें प्रशिक्षक व जिला प्रशिक्षण अधिकारी ने मास्टर ट्रेनरों को लोकसभा चुनाव नियमों, ईवीएम, वीवी पैट सहित सामान्य प्रशिक्षण दिया।

  सहायक प्रभारी कार्मिक/पीडी सेवाराम चैधरी की निगरानी में प्रशिक्षण दो पालियों में सम्पन्न हुआ, जिसमें प्रथम पाली में सुबह साढ़े नौ बजे दोपहर साढ़े बारह बजे तक 250 मास्टर ट्रेनरों को 10 अलग अलग कक्षों में 25-25 की संख्या में प्रशिक्षण दिया गया जबकि द्वितीय पाली में 34 जोनल मजिस्ट्रेट व 216 सेक्टर मजिस्ट्रेटों को प्रशिक्षण दिया गया है। पीडी ने बताया कि पूरा प्रशिक्षण प्रोजेक्टर के माध्यम से दिया गया तथा अधिकारियों को लिखित सामग्री के माध्यम से भी ईवीएम व वीवीपैट की जानकारी दी गई। प्रत्येक कक्ष में राज्य स्तरीय व जिला स्तरीय 5-5 मास्टर ट्रेनरों ने प्रशिक्षण दिया। प्रशिक्षण के दौरान प्रशिक्षकों द्वारा बताया गया कि चुनाव के दौरान एक छोटी सी गलती या चूक या विधि या नियमों के गलत प्रयोग या मशीन के विभिन्न कार्यो का अपर्याप्त ज्ञान आपके मतदान केंद्र पर होने वाले मतदान को प्रभावित कर सकता है। इसलिए सभी मास्टर ट्रेनर बेहद संजीदगी के साथ प्रशिक्षण लें क्योकि वे ही बतौर मास्टर ट्रेनर अन्य पोलिंग पसर्नल्स को निर्वाचन की ट्रेनिंग देगें। स्टेट ट्रेनर द्वारा प्रशिक्षण के दौरान ईवीएम व वीवीपैट के फुल आपरेशन की एक-एक जानकारियां दी गई तथा उन्हें बारीकियों से अवगत कराया गया। ट्रेनर्स द्वारा बताया गया कि मतपत्र इकाईयों और ड्राप बाक्स सहित प्रिन्टर को उनके नियत मतदान कोष्ठों में ही रखें। मत पत्र इकाईयों और ड्राप बाक्स सहित प्रिटर को उनकी नियत नियंत्रण इकाईयों से जोड़े और पावर का स्वीच आन करें। एक मतत्र में अधिकतम 16 बटन होते है, अंतिम पैनल नोटा के लिए होता है। मतदान शुरु होने के नियत समय से पूर्व उपस्थित अभ्यार्थियों और अभिकर्ताओं के सामने मतदान मशीन का प्रदर्शन करें। मतदान टुकड़ी के किसी भी सदस्य या मतदान अभिकर्ता को मतदान केंद्र से इधर-उधर घुमने न दें तथा उन्हें निर्धारित स्थान पर ही बैठाएं। प्रत्येक अभ्यर्थी के सामने नीला बटन होता है। किसी भी बटन को दबाकर मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकते है। प्रत्येक बटन के साथ एक लैंप होता है। मत रिकार्ड होने के बाद लैंप लालरंग का हो जाता है साथ ही एक बीप की आवाज सुनाई देती है। इस दौरान प्रभारी ईवीएम/पीडी सेवाराम चैधरी, सहायक निर्वाचन अधिकारी एसके सहाय, स्टेट ट्रेनर राजेन्द्र कुमार, शोभराज व धनन्जय कुमार मौजूद रहे।

Popular posts
प्रियंका ने वीडियो कांफ्रेंसिंग द्वारा ग्राम विकास अधिकारी और दारोगा भर्ती के अभ्यर्थियों से बातचीत की
Image
राज्यपाल ने प्रगति इंडस्ट्रीज, इंडस्ट्रीयल स्टेट स्थित कांच की फैक्ट्री का निरीक्षण किया
Image
गन्ना किसान फोन पर ही अपनी शिकायत दर्ज कराकर उसका समाधान पा सकेंगे - आयुक्त, संजय आर0 भूसरेड्डी
शारदीय नवरात्र पर नारी सुरक्षा एवं स्वावलम्बन हेतु विविध कार्यक्रमों का आयोजन प्रस्तावित - डाॅ0 दिनेश शर्मा
तालेत्तुताई सोलर प्रोजेक्ट फाइव प्रा0 लि0 को ग्राम खेड़ा एवं शहजादनगर तहसील बिल्सी, जनपद बदायूँ में 12.50 एकड़ से अधिक भूमि क्रय