इण्टरनेशनल सेफ साइबर दिवस के अवसर पर डी0जी0पी0 ने साइबर क्राइम पर लागों को जागरूक किया
            

लखनऊ 05 फरवरी २०१९ (वेबवार्ता/अजय कुमार वर्मा)। आज मंगलवार को इण्टरनेशनल सेफ साइबर दिवस के अवसर पर वीमेन पावर लाइन-1090 उ0प्र0 लखनऊ द्वारा साइबर पीस फाउण्डेशन के साथ मिलकर पुलिस प्रमुख ओ0 पी0 सिंह ने छात्र- छात्राओं को साइबर अपराध के बारे में जागृत किया। इस अवसर पर वीमेन पावर लाइन-1090 चैराहे पर कई कार्यक्रम आयोजित किये गये। 

 

ज्ञात हो कि इण्टरनेशनल सेफ साइबर दिवस 05 फरवरी को पूरे अन्र्तराष्ट्रीय स्तर पर मनाया जाता है। जिसका स्लोगन है ’’टू गेदर फाॅर ए बेटर इण्टरनेट’’ उ0प्र0 पुलिस 1090 और साइबर पीस फाउण्डेशन का उद्देश्य आज के प्रोग्राम के माध्यम से युवा पीढ़ी को सेफ इण्टरनेट प्रैक्टिसेज के प्रति जागरूक करना कि वो टेक्नाॅलिजी का सृजनात्मक, सुरक्षित, जिम्मेदारी से एवं सम्मान पूर्वक इस्तेमाल करें। इस कार्यक्रम में मनोरंजन तथा लघु नाटिका के माध्यम एवं रेडियो जाॅकी मयंक द्वारा वीमेन पावर लाइन-1090 के बारे में जानकारी दी गयी। साइबर पीस फाउण्डेशन की तरफ से साइबर पीस काप्र्स तथा एन0सी0ई0आर0टी0 की तरफ से साइबर कुम्भ पोर्टल की लांचिग पुलिस महानिदेशक उ0प्र0 द्वारा की गयी तथा साथ ही 1090 चैराहे से लोहिया पथ से समतामूलक चैराहा होते हुए एक साइबर पीस वाॅक का भी आयोजन किया गया जिसको श्रीमान पुलिस महानिदेशक द्वारा हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया गया जिसमें लखनऊ के 19 स्कूल/कालेजों के 450 पावर एंजिल्स/पावर हीरो एवं 28 पावर गार्जियन, अनेक पुलिस कर्मी भी सम्मिलित हुए। पुलिस महानिदेशक ने इस अवसर पर सेफर इण्टरनेट यूज के बारे में तथा 1090 की इस क्षेत्र में भूमिका प्रकाश डाला तथा अपर पुलिस महानिदेशक 1090 ने भी इस दिशा में उठाये जा रहे कदमों के बारे में जानकारी दी।

मुख्यालय 1090 में साइबर पीस फाउण्डेशन की तरफ से एक साइबर पीस काप्र्स वालेन्टियर ट्रेनिंग कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया जिसमें सेफर इण्टरनेट यूज तथा सोशल मीडिया एवं साइबर स्पेस के बारे में महत्वपूणर््ा जानकारी प्रदान की गयी। जिसमें विभिन्न स्कूल कालेजों के पावर एजेण्ट तथा पुलिस कर्मी मिलाकर 70 लोगों को यह ट्रेनिंग प्रदान की गयी ।

पुलिस महानिदेशक द्वारा परिवार परामर्श केन्द्रों पर अपनाये जाने वाली एस0ओ0पी0 का भी विमोचन किया गया तथा जिसकी प्रतियां सभी जिलांे एवं थानों पर वितरित की जा रही हैं। अभी तक परिवार परामर्श केन्द्रों पर विवादों के निस्तारण के लिए अपनायी जाने वाली प्रक्रिया में एक सरलता लाने हेतु कोई एस0ओ0पी0 नही थी। परिवार परामर्श केन्द्र की उपयोगिता पर प्रकाश डालते हुए पुलिस महानिदेशक द्वारा अवगत कराया गया कि समाज के अधिकांश लोग जो निचले तबके से आते हैं, उनके पास धनाभाव रहता है तथा लम्बी विधिक प्रक्रिया अपनाना उनके लिए सम्भव नही होता ऐसी स्थिति में यह एस0ओ0पी0 अत्यन्त लाभकारी होगी। पुलिस महानिदेशक द्वारा इस अवसर पर अपर पुलिस अधीक्षक पूर्वी लखनऊ को परिवार परामर्श केन्द्र से सम्बन्धित एस0ओ0पी0 की प्रति एवं पोस्टर प्रदान किया गया।

 इस दौरान अपर पुलिस महानिदेशक वीमेन पावर लाइन श्रीमती अंजु गुप्ता, यूनिसेफ उ0प्र0 के डिप्टी चीफ श्री अमित मल्होत्रा, यूनीसेफ के बाल संरक्षण अधिकारी श्रीमती नेहा नायड,ू आ0सी0टी0 एण्ड टी0डी0, सी0आई0ई0टी0-एन0सी0ई0आर0टी0 के डिपार्टमेन्ट हेड इन्दु कुमार तथा साइबर पीस फाउण्डेशन के अध्यक्ष कैप्टन विनीत कुमार भी उपस्थित रहे।